Friday, November 19, 2010

जवाबदारी मिडिया की सबसे ज्यादा है

जो होरहा है इस छत्तीसगढ़ मै वोशय्द आप कही सोच भी नहीं सकते क्योकि सर कटी लाश बच्चो की मिल रही इस छत्तीसगढ़ मै ये सोचने का विषय हैकि बच्चो के साथ ये सलूक करने वालो को कोई दर नहीं ये इस ज़माने का और ज़माने के लोगो का पर मै तो पोलिसे और सरकारी तंत्र को सलाम करता हु जहा सर कटी लाश ८ दिनों के बाद मालती है और मिडिया मै आता है की तीन दिनों बाद लाश मिली ये खबर मीडिया मै छापते है वो लोगो के चाहने वाले  जो कहते ही नहीं की इन भ्रस्त अधिकारियो मै कोई गज गिरे ताकि हिसाब मिलता ही रहे और सरकार बची रहे और मिडिया सोई रहे. खदान को पाटने के बारे मै कोई नहीं लिखता मुन्नी बदनाम हुई गाना और छत्तीसगढ़ में आये सलमान के बारे मै सब लिखते है कोई ये क्यों नहीं सोचता है की खदान के खुले रहने से पूरा पानी जहर बनरह है मछरो की संख्या बाद रही है और बिमारिय दिन बा दिन बाद रही है मुझे लगता है देख रेख करने की जवाबदारी  मिडिया की सबसे ज्यादा है क्यों की सब बिकते है पर मिडिया छपने के लिए लिए बिकती है न की छापने के लिए मेरा ऐसा सोचना है और जो बिक गई वो मिडिया नहीं .

1 comment:

  1. क्या आपने हिंदी ब्लॉग संकलक हमारीवाणी पर अपना ब्लॉग पंजीकृत किया है?


    अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें.
    हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि

    ReplyDelete